अर्जेंट जॉब ओपनिंग : कांग्रेस अध्यक्ष पद

अर्जेंट जॉब ओपनिंग : कांग्रेस अध्यक्ष पद
Spread apna word

बेरोजगारों के लिए यह खबर किसी खुशखबरी से कम नहीं है। कांग्रेस पार्टी ने 2019 लोकसभा चुनाव में बुरी तरह हारने के बाद बदलाव का मूड बना लिया है। कांग्रेस अध्यक्ष माननीय श्री श्री राहुल गांधीजी ने अध्यक्ष पद छोड़ने का कठोरतम फैसला ले लिया है। किंतु कांग्रेस पार्टी में कोई भी ऐसा कद्दावर नेता या दमदार शख्सियत आगे आने का नाम नहीं ले रही। कांग्रेस पार्टी ने तो एक से ज्यादा अध्यक्ष पद भी रखने का फैसला किया है। जाहिर है की अध्यक्ष पद पर नई नियुक्ति के साथ ही सहयोगी यों और अन्य संबंधित कर्मचारियों की भी अदला-बदली हो सकती है। अगर हम बात करें तो यह बेरोजगारों के लिए किसी अर्जेंट जॉब ओपनिंग से कम नहीं है।

चारों ओर से मिली शर्मनाक और फजीहत होने से शायद राहुल गांधी को समझ में नहीं आ रहा है कि आगे क्या करें। बिना किसी मजबूत रणनीति और कुशल प्रबंधन के कांग्रेस पार्टी की नाव मझधार में डूबती नजर आ रही है । राहुल गांधी अपने इस्तीफे पर अड़े हैं और साफ कह दिया है कि अगला अध्यक्ष गांधी परिवार से नहीं होगा। सभी पुराने और समझदार कांग्रेसी नेता आगे आने से बच रहे हैं। इतिहास गवाह रहा है की गांधी परिवार के अलावा कोई भी कांग्रेस की अध्यक्ष पद पर सफल नहीं रहा है। कारण जो भी हो किंतु इतना तो तय है कि कांग्रेस पद पर जो भी होगा कांटों का ताज ही पहनेगा।

आगे कुआं पीछे खाई

पिछले कुछ बैठको और मंथन के बाद भी अपेक्षित परिणाम न निकलने के बाद कांग्रेस पार्टी के लिए “आगे कुआं पीछे खाई” नजर आ रही है। कोई भी कांग्रेसी नेता साफ तौर पर आने आगे से बच रहा है जबकि सभी हार का मुख्य कारण जानते हैं । इतना सब होने के बाद भी कांग्रेस सकारात्मक राजनीति की ओर कदम बढ़ाती नहीं दिख रही और नकारात्मक राजनीति ही उस पर हावी है। पिछले कुछ बयानों में यहां तक कहा गया कि अब हम सदा आक्रामक तरीके से अपनी बात रखेंगे। शायद कांग्रेस को नकारात्मक राजनीति ही भा गई है और जनता से बुरी तरीके से नकारने के बावजूद भी कांग्रेस उसी पर अड़ी हुई है। कांग्रेस शायद समझना ही नहीं चाह रही है कि उसकी हार का मुख्य कारण उसका कमजोर नेतृत्व है।

राहुल गांधी जमीनी हकीकत ना समझ कर केवल अपने रणनीतिक सलाहकार और चाटुकारों के बल पर ही अपना प्रबंधन करते हैं। कभी भी गरीबी ना देखने वाले गरीब का हाल क्या जाने। ” जाके पांव न फटी बिवाई वो क्या जाने पीर पराई” कहावत चरितार्थ करते हुए राहुल गांधी एसी के बंद कमरों में रहकर गरीबों को समझने की भूल कर रहे हैं। उनकी इस करनी को उनका बचपना ही कहना अतिशयोक्ति नहीं होगी।

शहजादे राहुल गांधी

अर्जेंट जॉब ओपनिंग : कांग्रेस अध्यक्ष पद

किसी राज महल की तरह रहने वाले राहुल गांधी को जनता की नब्ज की कितनी पकड़ है यह कांग्रेस पार्टी और पूरा देश इस लोकसभा चुनाव में देख चुका है। किंतु इससे भी सबक न लेते हुए कांग्रेस के लिए तो गांधी परिवार ही भगवान जैसा दिखता है। सभी कांग्रेसियों के लिए तो गांधी परिवार ही सब कुछ है या कांग्रेस पार्टी का दूसरा नाम ही गांधी परिवार है। बिना गांधी परिवार के कांग्रेस पार्टी का वजूद वैसे ही है ऐसे ही है जैसे आत्मा बिना शरीर, जल बिन मछली।


हम सभी जानते हैं की सभी उठापटक और उहापोह के बाद भी गांधी परिवार कांग्रेसका सर्वा रहेगा। ना ही उसके बिना कुछ होने वाला है और नहीं कुछ बदलने वाला। कांग्रेश किया सोच पार्टी को कहां लेकर जा रही है यह तो आने वाला भविष्य ही बताएगा किंतु इतना तो तय है कि राहुल गांधी और पार्टी के लिए यह समय आसान नहीं है।

शायर के शब्दों में,” इक आग का दरिया है और डूब के जाना है”।

आपकी राय हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं

smiley_one

smiley_one

52 thoughts on “अर्जेंट जॉब ओपनिंग : कांग्रेस अध्यक्ष पद

  1. You are so interesting! I do not think I’ve read through something like that before.
    So wonderful to find another person with a few original thoughts on this
    subject. Seriously.. thank you for starting this up.
    This website is one thing that’s needed on the internet, someone with a little originality!

  2. Howdy just wanted to give you a brief heads up and let you
    know a few of the pictures aren’t loading properly. I’m not sure
    why but I think its a linking issue. I’ve tried it in two different browsers and both show the same results.

  3. Hey there! Do you know if they make any plugins to help
    with Search Engine Optimization? I’m trying to
    get my blog to rank for some targeted keywords but I’m not seeing very
    good success. If you know of any please share. Cheers!

  4. Howdy! This is my first comment here so I just wanted to give a
    quick shout out and tell you I truly enjoy
    reading your blog posts. Can you suggest any other
    blogs/websites/forums that go over the same topics?

    Thank you so much!

  5. Hello there! I know this is somewhat off topic but I was wondering which blog platform are you using for this website?
    I’m getting tired of WordPress because I’ve had problems with hackers and I’m looking at options for
    another platform. I would be great if you could point me in the direction of a good platform.

  6. Its like you read my mind! You appear to know a
    lot about this, like you wrote the book in it or something.
    I think that you could do with some pics to drive the
    message home a little bit, but instead of that, this is great blog.
    An excellent read. I’ll certainly be back.

  7. I’m impressed, I must say. Seldom do I encounter a blog that’s both educative
    and entertaining, and without a doubt, you have hit the
    nail on the head. The issue is something too few
    men and women are speaking intelligently about.

    I am very happy that I came across this during my hunt for something relating to this.

  8. I think everything said made a ton of sense. But, think
    on this, suppose you typed a catchier post title?
    I am not suggesting your content isn’t good., but suppose you
    added something that makes people want more?
    I mean अर्जेंट जॉब ओपनिंग : कांग्रेस अध्यक्ष पद – Ed World is kinda vanilla.
    You should look at Yahoo’s home page and watch how they create article
    headlines to grab people to open the links. You might add a video or a related picture or two to grab readers
    interested about what you’ve written. Just
    my opinion, it could make your blog a little livelier.

  9. We are a group of volunteers and starting a new scheme in our community.
    Your web site offered us with valuable information to work on. You’ve done
    a formidable job and our entire community will be grateful
    to you.

  10. I do consider all the ideas you have presented in your post.
    They’re very convincing and will definitely work. Still, the posts are too brief for newbies.
    Could you please prolong them a little from next time?
    Thanks for the post.

  11. Having read this I believed it was rather informative.
    I appreciate you taking the time and energy to put
    this article together. I once again find myself personally
    spending a significant amount of time both reading and leaving comments.
    But so what, it was still worthwhile!

  12. Having read this I believed it was rather informative.
    I appreciate you taking the time and energy to put
    this article together. I once again find myself personally
    spending a significant amount of time both reading and leaving comments.
    But so what, it was still worthwhile!

Leave a Reply